नहीं रहे बॉर्डर के ‘असली हीरो’ 100 सैनिकों के साथ 2000 PAK फौजियों को खदेड़ा था, 21 साल पहले सनी देओल ने इन्ही का निभाया था किरदार


0

21 साल पहले आयी बॉलीवुड की सुपर डुपर हिट फिल्म ‘बॉर्डर’ तो आप सब को तो याद ही होगा. जाहिर है, इसमें याद करना जैसा क्या है, देशभक्ति और भारतीय सेना पर आधारित ये फिल्म भारत देश के हर इंसान को बेहद पसंद आया था. इस फिल्म में बॉलीवुड के कई बड़े बड़े अभिनेता ने एक साथ मिलकर काम किया था. इस फिल्म सबसे अहम् किरदार सनी देओल ने निभाया था. फिल्म में उन्होंने मेजर कुलदीप सिंह चांदपुरी का किरदार निभाया था.

‘बॉर्डर’ फिल्म मल्टीस्टारर फिल्म थी. इस फिल्म में सनी देओल के अलावा जैकी श्रॉफ, सुदेश बेरी, सुनील शेट्टी, अजय देवगन, अक्षय खन्ना, पुनीत इस्सर, तब्बू, राखी के अलावा कई और एक्टर्स थे. यह फिल्म सुपहिट हुई थी। इस फिल्म को जे पी दत्ता ने डायरेक्ट किया था.

दुःख के साथ ये कहना पर रहा है की सनी देओल ने जिनका किरदार निभाया था,यानी की रियल कुलदीप सिंह चांदपुरी का शनिवार को निधन हो गया है. मेजर कुलदीप वह शख्सियत हैं जिनकी 1971 में लोंगेवाला युद्ध के दौरान सैन्य टुकड़ी ने बहादुरी का प्रदर्शन किया था. इसके साथ ही पाकिस्तान के नापाक मंसूबों को तबाह कर दिया था. बॉलीवुड की सुपरहिट ‘बॉर्डर’ फिल्म में एक्टर सनी देओल ने जिस मेजर कुलदीप सिह चांदपुरी का किरदार निभाया था, शनिवार को उनका मोहाली के एक अस्पताल में निधन हो गया. कुलदीप सिंह के परिवार ने बताया कि वह 78 साल के थे. मेजर कुलदीप सिंह चांदपुरी के परिवार में पत्नी और तीन बेटे हैं.


जाबाज सिपाही के निधन की खबर सुनते ही पूरे भारत देश में शोक की लहर है. बताया जाता है कि भारत और पाकिस्तान के बीच 1971 का युद्ध समाप्त होने वाला था. तभी मेजर कुलदीप को सूचना मिली थी कि पाकिस्तान की फौज लोंगेवाला चौकी की ओर बढ़ रही हैं. इस चौकी की सुरक्षा की जिम्मेदारी कुलदीप सिंह के पास थी. मेजर के पास उस वक्त 90 जवान थे जिसमें से 30 गश्त पर गए थे. युद्ध के दौरान मेजर रहे चांदपुरी ने राजस्थान के लोंगेवाला की प्रसिद्ध लड़ाई में महज 120 जवानों के साथ, पाकिस्तानी टैंकों के हमले का डटकर सामना किया था और उन्हें खदेड़ दिया था.

1971 में भारत-पाकिस्तान टैंकों के खिलाफ वीरता से खड़े होने और दुश्मन को पीछे हटने के लिए मजबूर करने के लिए उन्हें महावीर चक्र (एमवीसी) से सम्मानित किया गया. ब्रिगेडियर चांदपुरी और सेना के जवानों की जीत पर ही बाद में बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में सुपरहिट फिल्म ‘बॉर्डर’ बनाई गई, जिसे 1997 में रिलीज किया गया था . फिल्म में एक्टर सनी देओल ने उनका किरदार निभाया था. इस फिल्म को राष्ट्रीय स्तर के कई पुरुष्कार भी मिले थे.


लोंगेवाला की लड़ाई (1971) भारत पाकिस्तान युद्ध के दौरान पश्चिमी सेक्टर में हुई पहली बड़ी लड़ाइयों में एक थी. यह राजस्थान के थार मरुस्थल में लोंगेवाल की भारतीय सीमा चौकी पर हमलावर पाकिस्तानी सैनिकों और भारतीय सैनिकों के बीच लड़ी गई थी.

भारतीय सेना की 23 वीं बटालियन में मेजर कुलदीप सिंह की कमान वाली पंजाब रेजीमेंट के पास दो विकल्प थे – या तो वह और जवानों के आने तक पाकिस्तानी दुश्मनों को रोकने की कोशिश करे या भाग जाए. इस रेजीमेंट ने पहला विकल्प चुना और चांदपुरी ने यह पक्का किया कि सैनिकों और साजो समान का अच्छे से अच्छा इस्तेमाल किया जाए. उन्होंने अपने मजबूत बचाव की स्थिति का अधिक इस्तेमाल किया तथा दुश्मन की गलतियों का फायदा उठाया.

मेजर कुलदीप ने हार नहीं मानी और उन्होंने पाकिस्तान के 12 टैंक तबाह कर दिए थे और पाकिस्तान सैनिकों को 8 किलोमीटर दूर खदेड़ दिया था। इस युद्ध में पाकिस्तान की शर्मनाक हार हुई थी. इसी जाबाज योद्धा पर आधारित ‘बॉर्डर’ फिल्म में सनी देओल का रोल था. यह फिल्म भारत पाकिस्तान के बीच हुए 1971 के युद्ध पर आधारित थी.


Like it? Share with your friends!

0
News Fellow

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!